khaalipaper

Rakesh 

ब्लॉग लिखना मेरा एक शौक है, एक जरिया है अपने आप से मिलने का, अपनों से मिलने का, अनजान लोगो तक अपनी बात पहुंचाने का, अपने मन कि बात कहने का, अपने विचारो को व्यक्त करने का। अपने कलम के माध्यम से कहानियो, कविता और आर्टिकल के द्वारा मै अपने और अपने आस पास के लोगो के विचारो को व्यक्त करने की कोशिश करता हूँ।

साथ ही एक रिस्ता बन जाता है, उन लोग से जिनको मैंने कभी देखा नहीं है, उन अनजान लोगो से जुड़ने का और एक दूसरे से विचार साझा करने का। आखिर जिंदगी एक अनुभव ही तो है, जितना चाहो सीखो एक दूसरे से, बात करके या ब्लॉग के जरिये से, वैसे भी कहा जाता है, सीखना बंद तो जीतना बंद। जिंदगी हमें रोज कुछ न कुछ नया सिखाती रहती है। जिंदगी का हर दिन अपने अलग होता है बेहतरीन होता है। जिंदगी हर रोज हमें एक नया सवेरा, एक नया कल देता है, एक मौका, एक जीने कि चाह और नयी उर्जा प्रदान करता है।

हर एक स्टोरी कही न कही, किसी न किसी के जीवन से जुडी ही होती है, और हर एक आर्टिकल में लोग मुझसे जुड़ते है अपने अनुभव शेयर करते है, और एक कारवां बनते जाता है, एक अदृश्य दोस्ती का, विचारो का, अहसास का।

मेरी कहानिया सामजिक जीवन पर आधारित होती है, और कुछ सत्य घटनाओ पर आधारित होती है जो मैंने अपने जीवन में अनुभव किया है। जो की आसानी से लोगो से जुड़ जाती है। पढ़ने और लिखने में मेरा सुरु से ही काफी रूचि रही है। जीवन के संघर्स में मेरी यह इच्छा एक कोने में दब कर रह गयी थी। अब फिर से मुझे यह मौका मिला है अपने विचारों और अपने अनुभव को व्यक्त करने का लोगो के समक्ष रखने का।

कहाँनियो के जरिये आप सभी के प्यार के लिए तहे दिल से… धन्यवाद।